कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर WHO ने दी यह बड़ी जानकारी

कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर WHO ने दी यह बड़ी जानकारी

WHO ने कोरोना वायरस को दुनिया में महामारी घोषित कर दिया है व हर देश इससे बचने के लिए तेज़ी से प्रयासरत है पूरी संसार में कोरोना वायरस से संक्रमण के करीब दो लाख मुद्दे सामने आ चुके हैं, वहीं 7800 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो चुकी है.

 सबसे ज्यादा मौतें चाइना में हुई है. चाइना के वुहान शहर से प्रारम्भ हुए इस वायरस के संक्रमण को लेकर दुनियाभर के भिन्न-भिन्न राष्ट्रों में कई रिसर्च हो रही हैं. चाइना के वुहान शहर में ही अस्पताल में भर्ती मरीजों को लेकर कई स्टडी हो रही हैं, जबकि वैज्ञानिक यहां इस वायरस से हुई मौतों पर भी स्टडी कर रहे हैं. इस बीच एक रिसर्च में ये बात सामने आयी है की इसे संक्रमित होने वाले लोगो में अधिकतर में सामान ब्लड ग्रुप वाले थी. आज हम इस सम्बन्ध में आपके साथ शेयर करने जा रहे है , आइये जानते है.

इस नई शोध में जो बात सामने आयी है वो चौकाने वाली है जिसमें बताया गया है कि किस ब्लड ग्रुप के लोगों को कोरोना वायरस से ज्यादा खतरा है व किस ब्लड ग्रुप के लोगों को इससे कम खतरा है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को लेकर हुई इस स्टडी में जरूरी जानकारियां सामने आई है. दरअसल, वुहान में हुए इस रिसर्च में यह पता लगाने की प्रयास की गई कि किस ब्लड ग्रुप के लोगों को कोरोना वायरस का ज्यादा खतरा होता है. स्टडी में सामने आया का जिन लोगों का ब्लड ग्रुप ए है, उन्हें कोरोना के संक्रमण का ज्यादा खतरा है. जबकि ए ब्लड ग्रुप की तुलना में ब्लड ग्रुप 'ओ' वाले लोगों को इसके संक्रमण का खतरा कम है.

ब्लड ग्रुप को लेकर वुहान में हुए इस रिसर्च में यह भी बताया गया कि कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों में ए ब्लड ग्रुप वालों की सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं. इस रिसर्च में कोरोना वायरस से संक्रमित कुल 2173 मरीजों को शामिल किया गया था, जिनमें से 206 लोगों की संक्रमण की वजह से मृत्यु हो गई.