माइग्रेन के लक्षणों को दूर करने में मदद करता है यह ट्रीटमेंट

माइग्रेन के लक्षणों को दूर करने में मदद करता है यह ट्रीटमेंट

बॉलीवुड के प्रसिद्ध एक्टर, सिंगर व डायरेक्टर फरहान अख्तर व उनकी गर्लफ्रेंड शिबानी दांडेकर ने हाल ही में इंस्टाग्राम पर अपनी कुछ खास फोटोज़ शेयर की हैं। इन तस्वीरों को पोस्ट करते हुए दोनों ने बताया है कि उन लोगों ने माइनस 130 डिग्री तापमान में 3 मिनट तक रहकर एक खास ट्रीटमेंट करवाया है। इस ट्रीटमेंट का नाम क्रायोथेरपी है। इस खास ट्रीटमेंट की तस्वीर शिबानी ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट पर की है। 

वहीं फरहान अख्तर ने इसे अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर किया था। क्या आपको पता है कि क्रायोथेरपी ट्रीटमेंट क्या है, यह शरीर के लिए किस तरह से लाभकारी है। अगर नहीं तो आइए आपको इसके बारे में बताते हैं।

स्ट्रेस और तनाव होता है कम
क्रायोथेरपी एक तरह की कोल्ड थेरपी है जो ऐथलीट्स, स्पोर्ट्सपर्सन, सेलेब्रिटीज व ट्रेनर्स के बीच बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है। इसके अतिरिक्त जो लोग लंबे समय से शरीर में किसी तरह के दर्द से पीड़ित हैं उनके लिए भी यह बहुत ज्यादा लाभकारी होती है। इन दिनों क्रायोथेरपी ट्रीटमेंट, प्रोफेशनल्स के बीच स्ट्रेस और तनाव को कम करने के लिए भी प्रयोग किया जा रहा है।

मांसपेशियां व सूजी हुई नसें खुल जाएं
यह थेरपी या ट्रीटमेंट एक तरह के पेन रिलीफ मीडियम की तरह कार्य करता है। इसमें आपको एक बेहद ठंडे व जमे हुए चैंबर में कुछ देर के लिए बंद कर दिया जाता है ताकि शरीर की मांसपेशियां व सूजी हुई नसें खुल जाएं व उनका ठीक से उपचार हो सके। इस थेरपी से न सिर्फ शरीर की मांसपेशियों की हीलिंग होती है बल्कि आप इस ट्रीटमेंट के बाद रिफ्रेश महसूस करते हैं। इसके साथ ही आप यंग व एनर्जेटिक भी नजर आने लगते हैं। क्रायोथेरपी के व भी कई फायदे हैं।

माइग्रेन के लक्षणों को दूर करने में मदद
माइग्रेन व लंबे समय तक बने रहने वाला सिरदर्द कई बार पीड़ित आदमी को अंदर से निर्बल कर देता है। खासकर तब जब दर्द को दूर करने वाला ठीक पेनकिलर आपके पास उपस्थित न हो। ऐसे में क्रायोथेरपी आपके लिए मददगार साबित हो सकती है। यह सिर व गर्दन के आसपास की दर्द देने वाली सूजी हुई नसों को दबाकर या ठंडा कर माइग्रेन के लक्षणों को दूर करने में मदद करती है। यह माइग्रेन के दर्द को दूर करने का नैचुरल उपाय है।

इम्यूनिटी मजबूत करता है
वहीं अगर आपके शरीर की इम्यूनिटी निर्बल है तो आप क्रायोथेरपी का एक सेशन लेकर रिफ्रेश महसूस कर सकते हैं। इस ट्रीटमेंट को लेने के बाद ऐसा लगेगा जैसे शरीर में नयी जान आ गई हो। कई स्टडीज में यह बात साबित हो चुकी है कि सारे शरीर की क्रायोथेरपी के रेग्युलर सेशन्स लेने से शरीर में वाइट ब्लड सेल्स की बढ़ोतरी होती है।


वजन घटाता है
अगर आपको वजन घटाना है लेकिन प्रक्रिया बहुत ज्यादा लंबी चल रही है तो आप एक बार क्रायोथेरपी ट्रीटमेंट टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया करके देखें। आपका वजन जल्द ही कम होगा। बेहद ठंडे तापमान वाले चैम्बर में शरीर को बंद करने से कैलोरीज जल्दी जल्दी बर्न होती हैं। ऐसा होने से मेटाबॉलिज्म तेज होता है व फैट सेल्स भी जल्दी बर्न होते हैं।