न करें पैंट की जेब में मोबाइल रखने की गलती, वरना पड़ सकता हैं भारी

न करें पैंट की जेब में मोबाइल रखने की गलती, वरना पड़ सकता हैं भारी

यूं तो मोबाइल के नुकसान को लेकर कई सर्वे आ चुके हैं और ये भी साबित भी हो चुका है कि मोबाइल और इस जैसी डिवाइस का इस्तेमाल बेडरूम में रिश्ते में दरार ला सकता है। ले‌किन एक नई स्टडी में कई हैरान करने वाली चीजें सामने आई है। स्टडी के मुताबिक, मोबाइल ना सिर्फ स्वास्‍थ्य के लिए खतरनाक है बल्कि पुरुषों को भी नपुंसक बना सकता है। फर्टिलिटी एक्सपर्ट्स ने चेताया है कि जो शख्स एक दिन में कम से कम एक घंटा भी मोबाइल फोन इस्तेमाल कर रहा है उसका स्पर्म नष्ट हो रहा है और स्तर में भी गिरावट आ रही है।

वैज्ञानिकों ने चेताया है कि दिनभर में एक घंटा भी मोबाइल पर बात करने से पुरुषों की यौन क्षमता घटती है। पैंट की जेब में मोबाइल रखना भी इतना ही घातक है। मोबाइल चार्ज करते समय बात करना तो कई गुना नुकसानदायक है। इसका सीधा असर पुरुषों के स्पर्म पर पड़ता है। सलाह दी गई है कि रात को सोते समय भी मोबाइल दूर रखें। 106 युवाओं पर अध्ययन करने के बाद इजराइल के वैज्ञानिकों की यह रिपोर्ट प्रीप्रॉडक्टिव बायोमेडिसिन मैग्जीन में प्रकाशित हुई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, पश्चिम देशों में मोबाइल के कारण पुरुषों के स्पर्म की गुणवत्ता तेजी से घट रही है। 40 फीसदी मामलों में इसी कारण से पीड़ित पिता नहीं बना रहा है। ब्रिटिश विशेषज्ञों का मानना है कि मोबाइल से निकलने वाली हिट और इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तरंगें स्पर्म को ‘कूक’ करके खत्म कर देती हैं। अध्ययनकर्ताओं ने सलाह दी है कि मोबाइल जेब में नहीं, बल्कि अंगों से 20 इंच दूर रखा जाना चाहिए।

हैफा (इजराइल) की टेक्निओन यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर मार्था डर्नफील्ड का कहना है कि स्पर्म के स्तर तेजी से गिर रहा है जिसके कारण आने वाले वक्त में गर्भधारण बहुत मुश्किल हो जाएगा। बकौल मार्था, यदि आप परिवार बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं और एक साल में कामयाबी नहीं मिली है तो यह निश्चितरूप से मोबाइल का कुप्रभाव है।

भारत में यूजर्स औसतन 169 मिनट हर दिन स्मार्टफोन पर बिताते हैं इसमें से 02 घंटे सोशल मीडिया और चैटएप्स पर खर्च होते हैं। वहीं अमेरिका में एक दिन में सोशल मीडिया पर बिताया जाना वाला औसत वक्त 4.7 घंटे है।


तनाव आप पर हावी है तो इन 3 एक्सरसाइज से करें स्ट्रेस का उपचार

तनाव आप पर हावी है तो इन 3 एक्सरसाइज से करें स्ट्रेस का उपचार

तनाव हर उम्र के लोगों का हिस्सा बनता जा रहा है। बच्चे से लेकर बुजुर्गों तक पर तनाव हावी है। किसी को आर्थिक तंगी परेशान करती है तो किसी को सेहत और अपनों के दूर जाने का गम पल-पल खलता है। जिंदगी की यह परेशानियां तनाव का सबसे बड़ा कारण है। तनाव या स्ट्रेस कोई छोटी परेशानी नहीं है जिसे नज़र अंदाज किया जाए। तनाव ऐक ऐसी मानसिक बीमारी है जो हमारी और हमारे परिवार की खुशियां छीन लेता है। तनाव से पीड़ित इनसान हमेशा निराश और नकारात्मक सोच में जिंदा रहता है जो धीरे-धीरे जिंदगी की खुशियां छीन लेता है।


तनाव बॉडी पर कई तरह से असर डालता है। तनाव की वजह से वजन बढ़ सकता है। आपके बालों पर तनाव का सबसे ज्यादा असर पड़ता है, आप समय से पहले बूढ़े होने लगते हैं। लंबी उम्र जीना है तो तनाव से छुटकारा पाना जरूरी है। तनाव के स्तर को कम करना चाहते हैं तो कुछ एक्सरसाइज को अपनी रूटीन में शामिल करें। एक्सरसाइज ना सिर्फ तनाव को दूर करेंगी, बल्कि दिमाग को भी शांत रखेंगी। आइए आपको ऐसी 3 एक्सरसाइज के बारे में बताते हैं जिन्हें करके आप तनाव से छुटकारा पा सकते हैं।


स्ट्रेचिंग से करें तनाव को दूर:

स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज सेशन के पहले या बाद में की जाती है जिसे लोग एक्सरसाइज करने के लिए रूटीन का हिस्सा मानते हैं। आप जानते हैं कि स्ट्रेचिंग तनाव भी दूर करती है। स्ट्रेचिंग बॉडी की स्टिफनेफ को दूर करती है, साथ ही तनाव और दर्द से राहत दिलाती है। यह एक्सरसाइज आपके दिमाग को भी शांत रखती है।

तनाव का बेहतरीन इलाज है योगा:


योगा एक ऐसा प्रसिद्ध व्यायाम है जो तनाव से मुक्ति दिलाता है। हल्की एक्सरसाइज ना सिर्फ आपके दिमाग को शांत रखती हैं बल्कि आपके मानसिक तनाव को भी कम करती है। योगा आज दुनिया भर में लोगों के बीच अपनी पहचान कायम कर चुका है। योगा करने से तनाव से मुक्ति मिलती है और मन शांत रहता है। योगा आप घर में भी कर सकते हैं और पार्क में भी जाकर कर सकते हैं। आप यू ट्यूब पर तनाव दूर करने वाले योगा देखकर घर में आसानी से योगा कर सकते हैं।

दौड़कर भी कम होता है तनाव:

दौड़ना एक ऐसी असरदार एक्सरसाइज है जो ना सिर्फ आपका वज़न कंट्रोल करती है बल्कि आपको तनाव से भी मुक्त रखती है। अगर आप खुद को निराश, असहाय और कमज़ोर समझ रहे हैं तो पक्का आप पर तनाव हावी है। तनाव दूर करने के लिए आप घर से बाहर जाएं और कुछ देर दौड़ें दिमाग के रसायन शांत हो जाएंगे।