सर्दियों में ऐसा हो प्रातः काल का नाश्ता, पढ़े

सर्दियों में ऐसा हो प्रातः काल का नाश्ता, पढ़े

सर्दी के मौसम में व्यायाम के साथ ठीक खानपान का होना महत्वपूर्ण है. ऐसा आहार लें जिसमें कैलोरी कम व पोषक तत्व ज्यादा हों. इससे बढ़ते वजन को नियंत्रित कर ज्यादा फिट रह सकेंगे.


सर्दियों में ऐसा हो प्रातः काल का नाश्ता
हैल्दी रहने के लिए ब्रेकफास्ट में उपमा, ओटमील, फ्रूट कस्टर्ड शामिल कर सकते हैं. एक प्लेट फ्रूट या वेजिटेबल सलाद नाश्ते को सम्पूर्ण पोषण देगा. प्रतिदिन ब्रेकफास्ट के बाद मलाई निकला एक गिलास गर्म दूध लें. लंच में हरी सब्जी, रोटी, दही या छाछ, छिलके वाली दाल लें. इसके अतिरिक्त लंच में चावल व गरम सूप शामिल कर सकते हैं. हरी चटनी भोजन में मल्टीविटमिन्स की कमी को पूरा करती है.
डिनर हल्का और समय से करें
सर्दियों में रात के समय आप जल्दी भोजन करने की आदत डालें. रात का भोजन दोपहर के भोजन की अपेक्षा हल्का होना चाहिए. डिनर में आप खिचड़ी या दलिया जैसी हल्की चीजें ले सकते हैं. सोने से करीब 3 घंटे पहले भोजन करें, ताकि अच्छे से पच जाए. प्रतिदिन सोने से पहले हल्दी या अदरक एक गिलास गर्म दूध पीएं.
पोषकतत्वों से हो भरपूर खानपान
सर्दियों के मौसम में बनने वाला हलवा आदि खाने से भी वजन बढ़ता है. लो कैलोरी डाइट पर ध्यान नहीं दिया गया तो वजन बढ़ सकता है. नियमित जौ, बाजरे व गेहूं के आटे में मिक्स कर रोटियां खाएं. मौसमी फल-सब्जियां खाएं, लिक्विड डाइट भी पर्याप्त लेना महत्वपूर्ण है. प्रातः काल के समय गुनगुने पानी के साथ खाली पेट नींबू पानी ले सकते हैं. इससे शरीर में विषैले तत्व सरलता से बाहर निकलेंगे, वजन घटता है.
स्वाद के चक्कर में ओवरइटिंग से बचें
इस मौसम में अक्सर लोग पानी कम पीते हैं, इससे पाचन बिगड़ता है. शरीर की आवश्यकता अनुसार पानी पीएं, हाइड्रेशन से कठिनाई नहीं होगी. इस मौसम में स्वादिष्ट चीजों को ज्यादा खाते हैं, ओवरइटिंग से बचें. ओवरइटिंग का प्रभाव लिवर, हार्ट पर पड़ता है, वजन भी बढ़ता है