कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए WHO ने भारत से किया आह्वान

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए WHO ने भारत से किया आह्वान

विश्व के शक्तिशाली देश अमेरिका और ईरान तक कोरोना के प्रहार से परेशान है जिसके चलते अब सभी देशो की नज़र भारत की ओर लगी हुई है जहाँ एक ओर इसमें काफी हद तक काबू पाया गया है लेकिन अभी भी स्थिति पूरी नियंत्रण में नहीं है इसलिए भारत मे Coronavirus के तेजी से बढ़ रहे मामलों को देखते हुये विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO ने भारत से आह्वान किया है कि कोरोना के प्रसार के खिलाफ आक्रामक कार्रवाई जारी रखी जाय। ध्यान रहे कि भारत में कोरोना के अब तक 499 मामले सामने आ चुके हैं और यह आंकड़ा हर घन्टे बदल रहा है। इस प्रसार को रोकने के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित 548 जिलों में लॉकडाउन है।

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए भारत की ओर से उठाए गए कदम पर डब्लूएचओ ने सराहना भी की थी पर ताज़ा हालातो को देखते हुए निर्देश दिए गए है कि भारत चीन जैसा ही बेहद घनी आबादी वाला देश है। इन घनी आबादी वाले देशों में जो कुछ होगा उससे ज्यादा हद तक कोरोना वायरस का भविष्य निर्धारित होगा। यह वास्तव में बेहद महत्वपूर्ण है। इसलिए यह जरूरी है कि भारत सार्वजनिक स्वास्थ्य पर अपनी आक्रामक कार्रवाई जारी रखे।

WHO ने ये भी स्पष्ट किया बताया कि भारत ने साइलेंट किलर कही जाने वाली दो गंभीर बीमारियों – स्मॉल पॉक्स और पोलियो के उन्मूलन में दुनिया की अगुवाई की है। भारत में जबरदस्त क्षमता है, सभी देशों में भी जबरदस्त क्षमता है कि वे अपने समुदायों और नागरिक समाजों को एकत्र करें। ताज़ा आकड़ो [पर ध्यान दे तो पूरी दुनिया कोरोना वायरस की चपेट में है। कोरोना का जहर अब तक दुनियाभर के 16,000 से ज्यादा लोगों को निगल चुका है। वहीं, 3.6 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। इटली के बाद चीन में 3,270 मौत हो चुकी है। अकेले इटली में कोरोना से 6,077 लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में भी 400 से ज्यादा लोग नही रहे हैं।