आइये जानते हैं रॉयल एनफील्ड की इन बाइक्स के बारे में

आइये जानते हैं रॉयल एनफील्ड की इन बाइक्स के बारे में

रॉयल एनफील्ड की बाइक्स अपने खास लुक व दमदार क्षमता के लिए संसार भर में प्रसिद्ध हैं. खास कर युवाओं के बीच इन बाइक्स के मॉडिफाइड वर्जन का क्रेज बहुत ज्यादा देखने को मिलता है. आए दिन लोग Royal Enfield की बाइक्स को मॉडिफिकेशन के माध्यम से नया

लुक व डिजाइन देते रहते हैं. लेकिन आज जो बाइक हम आपके सामने पेश करने जा रहे हैं वो न केवल डिजाइन से यूनिक है बल्कि इसमें देश भक्ति के जज्बे की झलक भी देखने को मिलेगी. इस बाइक को Royal Enfield Kargil नाम दिया गया है. तो आइये जानते हैं इस बाइक के बारे में –

दरअसल, इस बाइक को नासिक, महाराष्ट्र बेस्ड Ornithopter मोटो डिजाइन ने कस्टमाइज किया है. ये फर्म बाइक्स को मॉडिफाई कर बिल्कुल ही नया लुक देने के लिए प्रसिद्ध है. इस बार इन्होनें Royal Enfield के प्रसिद्ध मॉडल Electra 350 को कस्टमाइज कर Kargil लुक दिया है. ये बाइक न केवल डिजाइन में खास है बल्कि इस बाइक में कई बड़े परिवर्तन किए गए हैं जो कि इसे सबसे बेहतर मॉडिफिकेशन में से एक बनाती है.

इस बाइक में कम्पलीट ब्लैक आउट फ्यूल टैंक दिया गया है, व बाइक को मैटे ब्लैक पेंट स्कीम से सजाया गया है. फ्रंट की बात करें तो इसमें कस्टम स्ट्रेट हैंडलबार दिए गए हैं, जिसमें रियर व्यू मिरर को भी बखूबी शामिल किया गया है. इसके अतिरिक्त इसमें यूनिक डिजाइल के हेडलैंप व मल्टीपल LED लाइट्स को भी शामिल किया गया है. जो कि इस बाइक के फ्रंट लुक को बहुत ज्यादा सुन्दर बनाते हैं.

Royal Enfield Kargil के फ्यूल टैंक पर सेना के जवानों को एक बेहतरीन स्टीकर वर्क भी देखने को मिलता है, जो कि एक तरह से सेना के जवानों के लिए सम्मान स्वरूप लगाया गया है. ये आपके देशभक्ति के जज्बे को भी जीवंत रखता है. इसमें स्पलिट सीट सेट-अप दिया गया है, जो कि बेहतरीन लैदर से कवर्ड है. बाइक की सीट पर मालिक का नाम भी इस्तेमाल किया गया है व इसके टूल बॉक्स पर बड़े अक्षरों में ‘KARGIL’ लिखा हुआ है.

इसमें कंपनी के स्टॉक एग्जॉस्ट की स्थान पर ऑफ्टर बाजार साइलेंसर का इस्तेमाल किया गया है, जिसे ब्लैक मैटे पेंट वर्क से सजाया गया है. बता दें कि, इस बाइक के इंजन मैकेनिज्म में किसी भी तरह का कोई परिवर्तन नहीं किया गया है. इस बाइक में पहले की तरह 346 cc की क्षमता का सिंगल सिलिंडर एयर कूल्ड इंजन प्रयोग किया गया है. जो कि 19.8 hp की क्षमता व 19.8 hp का टॉर्क जेनरेट करता है. इसमें 5 स्पीड गियरबॉक्स को शामिल किया गया है.

जनसत्ता ने जब Ornithopter मोटो डिजाइन के अमोल से बात की तो उन्होनें बताया कि, इस तरह के मॉडिफिकेशन में 40 से 45 दिन का समय लगता है. क्योंकि बाइक को कस्टमाइज करने के लिए डिजाइन पर बारीकी से कार्य करना होता है. इस बाइक के फ्यूल टैंक पर हैंड क्राफ्ट किया गया है व इस पर ऑर्मी जवानों की जो तस्वीर उकेरी गई है वो पेंट नौकरी है. उन्होनें बताया कि, Royal Enfield Kargil को सेना के एक लेफ्टिनेंट के लिए मॉडिफाई किया गया है व इस मॉडिफिकेशन में तकरीबन 90 हजार रुपये का खर्च हुआ है.