600mAh की पावरफुल बैटरी के साथ भारत में लॉन्च हुआ ZOOOK का नया वायरलेस माउस

600mAh की पावरफुल बैटरी के साथ भारत में लॉन्च हुआ ZOOOK का नया वायरलेस माउस

दिग्गज टेक कंपनी ZOOOK ने भारत में अपना शानदार ZOOOK Blade वायरलेस माउस लॉन्च कर दिया है। जूक ब्लेड माउस का डिजाइन शानदार है और इसमें रबड़ का व्हील दिया गया है। इसके अलावा नए माउस में दमदार बैटरी मिलेगी, जो लगातार कई दिनों तक काम करने में सक्षम है। आइए जानते हैं जूक ब्लेड माउस के स्पेसिफिकेशन और कीमत के बारे में...

ZOOOK Blade के स्पेसिफिकेशन

ZOOOK Blade वायरलेस माउस में एलईडी बैकलाइट दी गई है, जो सात विभिन्न रंगों में उपलब्ध है। यूजर्स इस लाइट को बंद कर सकते हैं। इस माउस की बॉडी में एबीएस प्लास्टिक का उपयोग किया गया है। इसके अलावा जूक ब्लेड माउस में 600mAh की लिथियम आयन बैटरी दी गई है। 

जूक ब्लेड माउस की खूबी है कि यह 10 मिनट तक इस्तेमाल न होने पर अपने आप स्लीपिंग मोड में चला जाता है। अन्य फीचर्स की बात करें तो जूक ब्लेड माउस में 2.4G वायरलेस तकनीक है। इसे इस्तेमाल करने के लिए किसी ड्राइवर की जरूरत नहीं है।    

ZOOOK Blade की कीमत 

ZOOOK Blade वायरलेस माउस की कीमत 999 रुपये है। इस माउस को कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट और ऑफलाइन स्टोर से खरीदा जा सकता है। 

आपको बता दें कि जूक ने नए साल की शुरुआत में Rocker Thunder Bolt karaoke पार्टी स्पीकर लॉन्च किया था। इस स्पीकर की कीमत 2,499 रुपये है। Zoook का नया Thunder Bolt karaoke स्पीकर 6 वूफर के साथ आता है। इसके साथ ही वायरलेस माइक्रोफोन दिया गया है। इसके अलावा यूजर्स को स्पीकर में 1200mAh की बैटरी मिलेगी, जिसे फुल चार्ज होने में 3 से 5 घंटे का समय लगता है। वहीं, कंपनी का दावा है कि इसकी बैटरी सिंगल चार्ज में पांच घंटे का बैकअप प्रदान करती है।

कनेक्टिविटी के लिए Thunder Bolt karaoke स्पीकर में ब्लूटूथ वर्जन 5.0 दिया गया है। इसकी रेंज 10 मीटर है। साथ ही इसमें शानदार साउंड के लिए X-Bass मौजूद है। इसके अलावा स्पीकर में यूएसबी पोर्ट और Aux मिलेगा।


RTO में बगैर टेस्‍ट दिए भी बन सकेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानें कैसे?

RTO में बगैर टेस्‍ट दिए भी बन सकेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानें कैसे?

नई दिल्‍ली यदि आप ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) बनवाने की सोच रहे हैं, लेकिन आरटीओ (RTO) में होने वाले ड्राइविंग टेस्‍ट से बचना चाह रहे हैं तो आपके लिए राहत देने वाली समाचार है जल्‍द ही आरटीओ में बगैर ड्राइविंग टेस्‍ट के ही लोग ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकेंगे इसके लिए सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport) से मान्‍यता प्राप्‍त ड्राइविंग टेस्‍ट सेंटर से ट्रेनिंग लेनी होगी, जिसके बाद सेंटर से एक सर्टिफिकेट मिलेगा इसके आधार पर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते समय टेस्‍ट देने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी यह मान्‍यता प्राप्‍त टेनिंग सेंटर 1 जुलाई 2021 से प्रारम्भ हो जाएंगे सड़क परिवहन मंत्रालय ने इस विषय में आदेश जारी कर दिए हैं

सड़क परिवहन मंत्रालय के अनुसार, प्रति साल देश में होने वाले हादसों का एक कारण ट्रेंड ड्राइवरों की कमी होना है मंत्रालय के मुताबिक मौजूदा समय देश में करीब 22 लाख ड्राइवरों की कमी है इस कमी को पूरा करने और सड़क हादसों को कम करने के लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने तय गाइडलाइन के मुताबिक देशभर में ड्राइवर टेनिंग सेंटर खोलने की अनुमति दे दी है लोग मंत्रालय के मानक के मुताबिक सेंटर खोल सकते हैं, जिसमें लोगों को ट्रेनिंग दी सकेगी ट्रेनिंग के बाद टेस्‍ट लिया जाएगा टेस्‍ट पास करने वालों को सेंटर सर्टिफिकेट देगा, जिसके आधार पर बगैर टेस्‍ट दिए ड्राइविंग लाइसेंस बन सकेगा

ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटर के लिए शर्तें
ट्रेनिंग सेंटर के लिए मैदानी इलाके में दो एकड़ और पहाड़ी इलाके में एक एकड़ जमीन की आश्‍वयकता होगी एलएमवी और एचएमवी दोनों तरह के वाहनों के लिए सिम्‍युलेटर जरूरी होगा, जिससे ट्रेनिंग दी जाएगी यहां पर बायोमीट्रिक अटेंडेंस और इंटरनेट के लिए ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी महत्वपूर्ण होगी सेंटर में पार्किंग, रिवर्स ड्राइविंग, ढलान, ड्राइविंग आदि ट्रेनिंग देने के लिए ड्राइविंग ट्रैक जरूरी होगा इसमें थ्‍योरी और सेंगमेंट कोर्स होंगे सेंटर में सिम्‍युलेटर की सहायता से हाईवे, ग्रामीण इलाके, भीड़भाड़ और लेन में चलने वाली जगहों पर बरसात, कोहरा और रात में वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जाएगी