10,000 रुपए की रेंज में बेहतरीन विशेषता वाले Smart Phone खरीदना चाहते हैं तो ये हो सकते हैं बेस्ट ऑप्शन

10,000 रुपए की रेंज में बेहतरीन विशेषता वाले Smart Phone खरीदना चाहते हैं तो ये हो सकते हैं बेस्ट ऑप्शन

पिछले कुछ समय में Smart Phone निर्माता कंपनियों ने देश में कई बजट रेंज स्मार्टफोन्स लॉन्च किए हैं. इन स्मार्टफोन्स में कंपनियों ने कम मूल्य में अच्छे विशेषता यूजर्स के लिए उपलब्ध कराए हैं. यदि आप भी बजट रेंज में कोई Smart Phone खरीदने की सोच रहे हैं तो आपको 10000 रुपए के बजट में कई बहुत बढ़िया Smart Phone मिल जाएंगे. इसमें आप अपनी जरूरतों के हिसाब से अपने लिए बेस्ट ऑप्शन चुन सकते हैं.

Oppo A15
ओप्पो का Oppo A15 Smart Phone को हिंदुस्तान में 10,990 रुपए की मूल्य में लॉन्च किया गया था. हालांकि अब इस फोन की कीमतों में कटौती कर दी गई है. अब आप Oppo A15 को 9990 रुपए में खरीद सकते हैं. वहीं इस फोन के विशेषता की बात करें तो इसमें 2GB रैम और 32GB स्टोरेज मिलेगी. इसकी डिस्प्ले 6.52 इंच की एचडी प्लस है. साथ ही इसमें ऑक्टा-कोर MediaTek Helio P35 प्रोसेसर दिया गया है. यह फोन Android 10 पर आधारित ColorOS 7.2 पर रन करता है. कैमरा सेटअप की बात करें तो इसमें ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है. इसमें मुख्य लेंस 13MP का है. इसके अतिरिक्त 2MP का मैक्रो लेंस और 2MP का डेप्थ सेंसर भी है. वीडियो कॉलिंग और सेल्फी के लिए इसमें 5MP का कैमरा उपस्थित है.

Infinix Smart 4 Plus
Infinix Smart 4 Plus Smart Phone का 3 GB रैम + 32 GB वेरिएंट 7,999 रुपए में उपलब्ध है. विशेषता की बात करें तो इसमें 6.82 इंच की एचडी+ डिस्प्ले दी गई है. बेहतर परफॉर्मेंस के लिए इसमें मीडियाटेक हीलियो A25 प्रोसेसर दिया गया है. कैमरे की बात करें तो इसमें आपको रियर पैनल पर 13 मेगापिक्सल का कैमरा मिलेगा. वहीं वीडियो कॉलिंग और सेल्फी के लिए इसके फ्रंट में 8MP का कैमरा दिया गया है.

Tecno Spark Power 2
Tecno Spark Power 2 सिंगल वेरिएंट 4GB रैम + 64GB स्टोरेज में उपलब्ध है. इसकी मूल्य 9,999 रुपए है. इस Smart Phone में 7 इंच की डिस्प्ले दी गई है. इसके अतिरिक्त इसमें मीडियाटेक हीलियो P22 प्रोसेसर मिलेगा. फोन को पॉवर देने के लिए इसमें 6000mAh की दमदार बैटरी लगी है. इसमें आपको फोटोग्राफी के लिए 16 मेगापिक्सल का क्वाड रियर कैमरा मिलेगा.

Redmi 9
Redmi 9 भी आपके लिए अच्छा विकल्प हो सकता है. इस Smart Phone को आप 8,999 रुपए में खरीद सकते हैं. इसके विशेषता भी अच्छे हैं. इसमें आपको 6.53-इंच की एचडी+ डिस्प्ले मिलेगी. साथ ही यह फोन MediaTek Helio G35 प्रोसेसर से लैस है. इसमें 4 जीबी रैम दी गई है. फोन को पॉवर देने के लिए इसमें 5,000mAh की बैटरी मिलेगी.

Moto E7 Plus
मोटोरोला का Moto E7 Plus Smart Phone में आपको कम मूल्य में बेहतरीन विशेषता मिलेंगे. इसमें एचडी+ रिज़ॉल्यूशन के साथ 6.5-इंच की डिस्प्ले स्क्रीन दी गई है. मोटोरोला का यह फोन क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 460 प्रोसेसर से लैस है. इसमें 4 जीबी रैम दी गई है. सिक्योरिटी के लिए इस Smart Phone में रियर-माउंटेड फिंगरप्रिंट स्कैनर दिया गया है. Moto E7 Plus की मूल्य 9,499 रुपए है.


RTO में बगैर टेस्‍ट दिए भी बन सकेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानें कैसे?

RTO में बगैर टेस्‍ट दिए भी बन सकेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानें कैसे?

नई दिल्‍ली यदि आप ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) बनवाने की सोच रहे हैं, लेकिन आरटीओ (RTO) में होने वाले ड्राइविंग टेस्‍ट से बचना चाह रहे हैं तो आपके लिए राहत देने वाली समाचार है जल्‍द ही आरटीओ में बगैर ड्राइविंग टेस्‍ट के ही लोग ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकेंगे इसके लिए सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport) से मान्‍यता प्राप्‍त ड्राइविंग टेस्‍ट सेंटर से ट्रेनिंग लेनी होगी, जिसके बाद सेंटर से एक सर्टिफिकेट मिलेगा इसके आधार पर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते समय टेस्‍ट देने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी यह मान्‍यता प्राप्‍त टेनिंग सेंटर 1 जुलाई 2021 से प्रारम्भ हो जाएंगे सड़क परिवहन मंत्रालय ने इस विषय में आदेश जारी कर दिए हैं

सड़क परिवहन मंत्रालय के अनुसार, प्रति साल देश में होने वाले हादसों का एक कारण ट्रेंड ड्राइवरों की कमी होना है मंत्रालय के मुताबिक मौजूदा समय देश में करीब 22 लाख ड्राइवरों की कमी है इस कमी को पूरा करने और सड़क हादसों को कम करने के लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने तय गाइडलाइन के मुताबिक देशभर में ड्राइवर टेनिंग सेंटर खोलने की अनुमति दे दी है लोग मंत्रालय के मानक के मुताबिक सेंटर खोल सकते हैं, जिसमें लोगों को ट्रेनिंग दी सकेगी ट्रेनिंग के बाद टेस्‍ट लिया जाएगा टेस्‍ट पास करने वालों को सेंटर सर्टिफिकेट देगा, जिसके आधार पर बगैर टेस्‍ट दिए ड्राइविंग लाइसेंस बन सकेगा

ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटर के लिए शर्तें
ट्रेनिंग सेंटर के लिए मैदानी इलाके में दो एकड़ और पहाड़ी इलाके में एक एकड़ जमीन की आश्‍वयकता होगी एलएमवी और एचएमवी दोनों तरह के वाहनों के लिए सिम्‍युलेटर जरूरी होगा, जिससे ट्रेनिंग दी जाएगी यहां पर बायोमीट्रिक अटेंडेंस और इंटरनेट के लिए ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी महत्वपूर्ण होगी सेंटर में पार्किंग, रिवर्स ड्राइविंग, ढलान, ड्राइविंग आदि ट्रेनिंग देने के लिए ड्राइविंग ट्रैक जरूरी होगा इसमें थ्‍योरी और सेंगमेंट कोर्स होंगे सेंटर में सिम्‍युलेटर की सहायता से हाईवे, ग्रामीण इलाके, भीड़भाड़ और लेन में चलने वाली जगहों पर बरसात, कोहरा और रात में वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जाएगी