Loan ट्रांसफर कराने के नियम RBI ने बदले, इन संस्‍थानों पर होगा लागू

Loan ट्रांसफर कराने के नियम RBI ने बदले, इन संस्‍थानों पर होगा लागू

Loan को एक बैंक से दूसरे में ट्रांसफर करने के नियम में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बदलाव कर दिया है। रिजर्व बैंक ने एक बैंक से दूसरे वित्तीय संस्थानों में कर्ज के स्थानांतरण को लेकर मास्टर दिशानिर्देश जारी किया। इसके तहत कर्ज देने से जुड़े संस्थानों को इस प्रकार के लेन-देन के लिये निदेशक मंडल की मंजूरी के साथ एक व्यापक नीति तैयारी करनी होगी।

आरबीआई ने कहा कि कर्ज देने वाले संस्थान विभिन्न कारणों से कर्ज स्थानांतरण का सहारा लेते हैं। इसमें नकदी प्रबंधन, उनके जोखिम या रणनीतिक बिक्री को पुनर्संतुलित करना शामिल है। साथ ही, कर्ज मामले में एक मजबूत द्वितीयक बाजार नकदी बढ़ाने के लिए अतिरिक्त तरीके उपलब्ध कराने में मदद करेगा।

रिजर्व बैंक के निर्देश के प्रावधान बैंकों, आवास वित्तय कंपनियों, नाबार्ड (राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक), राष्ट्रीय आवास बैंक (एनएचबी), भारत निर्यात-आयात बैंक (एक्जिम बैंक) समेत सभी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) पर लागू होंगे।


मास्टर निर्देश में विभिन्न श्रेणी के कर्ज को रखने की न्यूनतम अवधि का भी प्रावधान किया गया है। उस अवधि के बाद ही कर्ज एक बैंक से दूसरे बैंक में स्थानांतरित किया जा सकता है। इसमें कहा गया है कि कर्ज देने वाले संस्थानों को इन दिशानिर्देशों के तहत कर्ज ट्रांसफर और अधिग्रहण के लिए बोर्ड से मंजूरी के साथ एक व्यापक नीति बनानी होगी।

जांच-परख, मूल्यांकन, जरूरी आईटी प्रणाली, भंडारण और आंकड़ा प्रबंधन, जोखिम प्रबंधन, निश्चित अवधि पर निदेशक मंडल स्तर पर निगरानी आदि से संबंधित न्यूनतम मात्रात्मक और गुणात्मक मानदंड निर्धारित करने की जरूरत होगी। भारतीय रिजर्व बैंक निर्देश (कर्ज स्थानांतरण), 2021 पर मसौदा दिशानिर्देश को पिछले साल जून में विभिन्न पक्षों की टिप्पणी के लिये जारी किया गया।

टिप्पणियों पर विचार करने के बाद इस पर अंतिम निर्देश शुक्रवार को जारी कर दिये गये। आरबीआई ने कहा कि निर्देश तत्काल प्रभाव से अमल में आ गये हैं। निर्देश में कर्ज के स्थानांतरण को लेकर प्रक्रिया की जानकारी दी गयी है।

आरबीआई ने मानक संपत्ति के प्रतिभूतिकरण पर भी निर्देश जारी किया ताकि विभिन्न प्रकार के जोखिम के साथ व्यापार योग्य प्रतिभूतियों में उन्हें फिर से शामिल करने (रिपैकेजिंग) की सुविधा हो सके।


Revolt RV400 64 नए शहरों में होगी लॉन्च, जानें कब से फिर बुक कर पाएंगे ये धांसू इलेक्ट्रिक बाइक

Revolt RV400 64 नए शहरों में होगी लॉन्च, जानें कब से फिर बुक कर पाएंगे ये धांसू इलेक्ट्रिक बाइक

Revolt Motors जल्द ही भारतीय बाजार में अपनी RV 400 इलेक्ट्रिक बाइक की पहुंच बढ़ाने की तैयारी कर रही है। EV निर्माता ने RV 400 के रिटेल पॉइंट की सूची में 64 नए शहरों को जोड़ने की योजना बनाई है। रिकॉर्ड के लिए, बाइक वर्तमान में केवल छह भारतीय शहरों में उपलब्ध है, लेकिन कंपनी की योजना 2022 की शुरुआत तक गिनती को 70 तक बढ़ाने की है।

ईवी निर्माता 21 अक्टूबर, दोपहर 12 बजे अपनी प्रमुख बैटरी चालित मोटरसाइकिल के लिए बुकिंग फिर से खोलने की योजना बना रही है। दिलचस्प बात यह है कि भारत के सभी नियोजित 70 शहरों में लोग RV 400 इलेक्ट्रिक बाइक बुक कर सकेंगे। वर्तमान में, बाइक दिल्ली, मुंबई, पुणे, चेन्नई, अहमदाबाद और हैदराबाद जैसे चुनिंदा भारतीय शहरों में खरीदने के लिए उपलब्ध है। इसके साथ ही, कंपनी अन्य प्रमुख भारतीय शहरों जैसे बैंगलोर, कोलकाता, जयपुर, सूरत, चंडीगढ़, लखनऊ, एनसीआर और अन्य में भी बुकिंग खोलने की योजना बना रही है।


कंपनी अपने ग्राहकों की बिक्री के बाद की जरूरतों को पूरा करने के लिए इन स्थानों में सर्विस टचप्वाइंट के साथ आने की भी योजना बना रही है। ग्राहक रिवोल्ट ई-बाइक की सभी टचप्वाइंट पर टेस्ट ड्राइव भी ले सकेंगे। नई आरवी 400 ई-बाइक 150 किमी तक की फुल चार्ज बैटरी रेंज के साथ आती है और 85 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड प्रदान करती है। बाइक में 3kW का मिड-ड्राइव मोटर लगा है जो 3.24kWh लिथियम-आयन बैटरी द्वारा संचालित है।


इसके अलावा, यह MyRevolt नाम की एक समर्पित स्मार्टफोन एप्लिकेशन के साथ भी आता है जो जियो-फेंसिंग, पूर्ण बाइक डायग्नोस्टिक्स, बैटरी स्थिति, अनुकूलित ध्वनियों का चयन, ड्राइविंग और माइलेज का ऐतिहासिक डेटा जैसी कई कनेक्टिविटी सुविधाओं तक पहुंच प्रदान करती है।