Bank Of India ने एक्सटर्नल बेंचमार्क आधारित प्रोडक्ट्स पर ब्याज दर में 0.75 फीसद की कटौती

 Bank Of India ने एक्सटर्नल बेंचमार्क आधारित प्रोडक्ट्स पर ब्याज दर में 0.75 फीसद की कटौती

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क. सार्वजनिक क्षेत्र के Bank Of India ने एक्सटर्नल बेंचमार्क आधारित प्रोडक्ट्स पर ब्याज दर में 0.75 फीसद की कटौती का रविवार को ऐलान किया. इसके साथ ही एक्सटर्नल बेंचमार्क आधारित कर्ज़ पर बैंक अब 7.25 फीसद की दर से ब्याज लेगा. बैंक का एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट भारतीय रिजर्व बैंक के रेपो रेट से जुड़ा होता है. केंद्रीय बैंक ने 27 मार्च को रेपो रेट में 0.75 फीसद की भारी कटौती का ऐलान किया था. अब RBI का रेपो रेट 4.40 फीसद हो गया है. बैंक ऑफ इंडिया की ओर से घोषित नयी दरें एक अप्रैल से प्रभावी होंगी

बैंक का होम लोन, कार कर्ज़ होगा सस्ता

Bank Of India की ओर से जारी बयान में बोला गया है, ''एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिंग रेट में 0.75 फीसद की कटौती की गई है व यह 7.25 फीसद सालाना हो गया है. इसके साथ ही हमने अपने होम, व्हिकल कर्ज़ लेने वाले ग्राहकों व MSME ग्राहकों को आरबीआइ की ओर से की गई कटौती का फायदा दे दिया है.''

MCLR में भी कमी

बैंक ने इसके अतिरिक्त मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) में भी 0.15 फीसद से 0.25 फीसद कटौती का ऐलान किया है. एक दिन के लोन के लिए बैंक ने ब्याज दर में 0.15 फीसद की कटौती का ऐलान किया है. वहीं, एक माह से एक वर्ष तक कर्ज़ 0.25 फीसद तक सस्ता हो गया है. बैंक के एक वर्ष का MCLR 7.95 फीसद हो गया है.

भारतीय स्टेट बैंक भी कम कर चुका है रेट

इससे पहले देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने भी ब्याज दरों में भारी कमी का ऐलान किया था. इससे बैंकों से लोन लेने वाले ऐसे ग्राहकों को लाभ होगा, जिनकी आमदनी लॉकडाउन के वजह से प्रभावित हुई है. ब्याज दरों में कमी से लोगों से EMI का बोझ कम हो जाएगा.