जल्दी हटाईये इसे, लोन देने वाले 453 ऐप्स को गूगल ने किया बैन

जल्दी हटाईये इसे, लोन देने वाले 453 ऐप्स को गूगल ने किया बैन

नई दिल्ली: आम आदमी हो या ख़ास सबको कभी न कभी लोन की जरूरत पड़ती है। लोन उपलब्ध कराने के वाले ऐसे बहुत सारे ऐप्स हैं जो बड़े आसानी से लोन उपलब्ध कराते हैं। कुछ ऐप्स इस काम में धोकेबाजी भी करते हैं। गूगल ने पर्सनल लोन देने वाले 453 ऐप्स को प्ले स्टोर से हटा दिया है। बता दें कि ये ऐप्स कंपनी की यूजर सेफ्टी पॉलिसी का उल्लंघन कर रहे थे। इनके जरिए लोन लेने वाले यूजर के डेटा से छेड़खानी भी की जा रही थी।

यूजर की सेफ्टी हमारे लिए सबसे ऊपर-गूगल
गूगल ने बताया कि यूजर की सेफ्टी हमारे लिए सबसे ऊपर है। अगर इन्हें किसी अन्य प्लेटफॉर्म से इन्स्टॉल किया जाता है, तो डेटा सिक्योरिटी को लेकर गूगल जिम्मेदार नहीं होगा। गूगल ने ऐसे ऐप्स की लिस्ट जारी नहीं की है, लेकिन सोशल मीडिया पर एक लिस्ट वायरल हो रही है, जिसमें ऐसे 453 ऐप्स दिए गए हैं और ये प्ले स्टोर पर ओपन भी नहीं हो रहे हैं।

यूजर को सभी तरह की जानकारी देनी होगी-गूगल
गूगल की पॉलिसी के मुताबिक, पर्सनल लोन देने वाले ऐप्स को यूजर को सभी तरह की जानकारी देनी होगी। जैसे- पेमेंट की मिनिमम और मैक्सिमम समय-सीमा क्या है? अधिकतम ब्याज दरें क्या हैं? ग्राहकों को ये बताना होगा कि लोन की कुल लागत कितनी होगी? लोन के फीचर्स, फीस, रिस्क और बेनिफिट्स के बारे में ट्रांसपेरेंसी रहे, ताकि लोग सही फैसला ले सकें।

लिस्ट में इन लोन ऐप्स के नाम हैं…पर्सनल और इंस्टेंट लोन वाले चुनिंदा ऐप्स की लिस्ट
कैश

VN कार्ड

मनी मोर

मनी फॉर पीपुल

वन लोन

कैश ऑन

क्रेडिट

कैश गुरु

रूपी क्लिक

कैश नाउ

कैच कैश

क्रेडी मी

क्रेडिट बस

ईजी क्विक

कैश काऊ

फ्लैक्स सैलेरी

वर्ल्ड मनी

रूपी प्लस

फास्ट रूपी

कैश बाजार

लोन

ईजी

वी कैश

कैश बाउल फोन

एक ऐप भारत इंस्टेंट लोन, 10 हजार से ज्यादा बार इन्स्टॉल किया गया
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही लिस्ट में एक ऐप भारत इंस्टेंट लोन भी है। हालांकि, इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से अब भी इन्स्टॉल किया जा सकता है। इसे अब तक 10 हजार से ज्यादा बार इन्स्टॉल किया गया है। वहीं, 260 यूजर्स ने इसे 5 में से 3.1 स्टार रेटिंग दी है। ज्यादातर यूजर्स ने रिव्यू के दौरान इसकी सर्विस को अच्छा नहीं बताया।

ऐप ने लोन से जुड़ी डिटेल मेंशन की है। जैसे-
-लोन अमाउंट: 10,000 रुपए मैक्सिमम

-लोन टर्म्स: 91 दिन (कम दिन, एक्सटेंड टाइम के साथ) – 365 दिन (अधिक दिन, एक्सटेंड टाइम के साथ)

-मैक्सिमम APR: 36%

-ट्रांजेक्शन फीस: नहीं

-प्रोसेसिंग फीस: 10%

-डॉक्युमेंट्स: पैन कार्ड, आधार नंबर, फोटो, अकाउंट डिटेल।

उदाहरण: यदि आप 5,000 रुपए का लोन एक साल के लिए लेते हैं, तब इस पर कुल ब्याज 5000 रुपए X 36% = 1800 रुपए होगा।
प्ले स्टोर पर पर्सनल लोन के कई ऐप्स

गूगल पर अभी भी पर्सनल लोन देने वाले ऐसे कई ऐप्स मौजूद हैं। जैसे ही प्ले स्टोर पर LOAN लिखकर सर्च किया जाता है, तो लंबी लिस्ट खुल जाती है। इनमें सरकारी ऐप्स के साथ कई प्राइवेट बैंक और फर्म के ऐप्स भी शामिल हैं।

ऐप्स लोन के चलते किसी ने सुसाइड किया, तो किसी को बदनाम किया गया
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इंस्टेंट लोन ऐप्स की वजह से कुछ सुसाइड के मामले भी सामने आए हैं। वहीं, दिसंबर में इंस्टेंट मनी लेंडिंग ऐप घोटाले में हैदराबाद और गुड़गांव से 19 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

केस नंबर-1
तेलंगाना में लॉकडाउन के दौरान 28 वर्षीय व्यक्ति ने अपनी नौकरी खो दी थी। उसने कर्ज लिया, लेकिन चुका नहीं पाया। ऐसे में कर्ज चुकाने के लिए किसी ऐप से इंस्टेंट लोन लिया। जब ऐप का लोन नहीं चुका पाया, तब रिकवरी एजेंट उसके पीछे लग गए। उसे बार-बार मैसेज भेजने लगे। उसके कॉल लिस्ट के लोगों को फोन करने लगे। परेशान होकर उसने दिसंबर में सुसाइड कर लिया।

केस नंबर-2
इंदौर की एक महिला ने ऐप से 20,000 रुपए का लोन लिया था। जब लोन की EMI मिस हो गई, तो उसे परेशान करना शुरू कर दिया गया। उसके फोटो को शेयर किए जाने लगे। धमकी दी गई कि कलेक्शन के लिए एजेंट को घर भेजेंगे। पुलिस से भी शिकायत करेंगे। उन्होंने महिला की कॉन्टैक्ट लिस्ट में मौजूद लोगों को भी परेशान किया।

प्ले स्टोर पर ऐप्स को लेकर RBI सर्टिफिकेट जरूर देखें
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) का कहना है कि लोन देने वाली किसी लिस्टेड वेबसाइट या उसके ऐप पर जाते हैं, तब यह जरूर देखें कि वो RBI से रजिस्टर्ड है। या फिर RBI से रजिस्टर्ड किसी बैंक या NBFC के साथ काम कर रहा है। लोने देने वाली सभी कंपनियों को अपनी कंपनी पहचान संख्या (CIN) और सर्टिफिकेट ऑफ रजिस्ट्रेशन (CoR) को साफ तौर पर दिखाना होगा।

ऐप्स को हटाने के पहले नोटिस भी नहीं दिया जाएगा- गूगल
गूगल ने ब्लॉगपोस्ट में कहा कि कंपनी ऐप्स का रिव्यू करना जारी रखेगी। जिन ऐप्स को यूजर की सेफ्टी पॉलिसी का उल्लंघन करते पाया जाएगा, उन्हें तुरंत हटा दिया जाएगा। ऐप्स को हटाने के पहले नोटिस भी नहीं दिया जाएगा। सुरक्षा मानकों का पालन नहीं करने वाले सभी ऐप्स पर कार्रवाई होगी। कंपनी उन एजेंसियों की मदद करना जारी रखेगी, जो फर्जी पर्सनल लोन ऐप्स के जांच का काम कर रही हैं।

दूसरी तरफ, लोन ऐप के जरिए उत्पीड़न की घटनाओं के बीच RBI ने एक वर्किंग ग्रुप का गठन किया है। यह ग्रुप डिजिटल लेंडिंग के व्यवस्थित विकास के लिए सुझाव देगा। पिछले महीने RBI ने लोगों को अनधिकृत डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म और मोबाइल ऐप के झांसे में नहीं आने के लिए चेताया था।


इस ट्रिक से आसानी से पता लगाएं, कहीं आपका पासवर्ड हैकर्स की नज़र में तो नहीं

इस ट्रिक से आसानी से पता लगाएं, कहीं आपका पासवर्ड हैकर्स की नज़र में तो नहीं

आपको बता दें गूगल ने कुछ समय पहले एक टूल जारी किया था। जिससे पासवर्ड के लीक होने, कमजोर होने या फिर एक पासवर्ड कई अकाउंट में इस्तेमाल करने के बारे में पता लगाया जा सकता है। आप passwords.google.com पर जा कर अपना अकाउंट लॉग इन कर इसका पता लगा सकते हैं। यहां पासवर्ड चेकअप का एक ऑप्शन होगा। जिस पर क्लिक करते ही गूगल आपको जानकारी देगा।

गूगल सेव्ड पासवर्ड के बेस पर जानकारी देगा कि आपके कितने पसावर्ड कॉम्प्रोमाइज्ड हैं यानी जो डेटा लीक में लीक हो चुके हैं। इसके साथ ही आपके कितने पासवर्ड दोबारा इस्तेमाल किए गए हैं और कितने पासवर्ड्स कमजोर हैं। कॉम्प्रोमाइज्ड पासवर्ड पर क्लिक करके आपके अलग अलग वेबसाइट पर लॉग इन किए गए पासवर्ड नज़र आएंगे। 

यहां ये पता चलेगा कि कभी न कभी डेटा लीक के दौरान लीक हो चुके हैं और हो सकता है कि भविष्य में आप इस वजह से संकट में फंस जाएं। गूगल इस टूल में चेंज पासवर्ड का भी ऑप्शन देता है। यहां क्लिक करते ही आप उस वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे जिसका पासवर्ड लीक हुआ है अब यहां आप अपना पासवर्ड बदल सकते हैं।


Tiger Shroff के शानदार डांस पर दिशा पाटनी ने किया दिलचस्प कमेंट       इस एक्ट्रेस ने कराया ग्लैमरस फोटोशूट, देखकर हो जाएंगे दीवाने       एक्ट्रेस जमीला जमील को प्रियंका चोपड़ा समझ बैठा फैन       बयान दर्ज कराने क्राइम ब्रांच के पहुंचे ऋतिक रोशन       Ranveer Singh ने रोहित शेट्टी के एक्शन सीन को लेकर कही ये बात       इंस्टेंट बल्ड शुगर कंट्रोल करने के लिए रोजाना पिएं इसका पानी       लहसुन खाएंगे तो कम होगा ऐसी गंभीर बीमारियों का जोखिम       शरीर में ये बदलाव डायबिटीज के हैं लक्षण       कोरोना वायरस से मिली हैं ये 6 सीख       इन चीजों से करें परहेज और पीलिया में खाएं ये चीजें       पाचन तंत्र को दुरुस्त बनाने के साथ सेहत के लिए बहुत होता है फायदेमंद दलिया       सेहत के लिए बहुत लाभकारी होता है अश्वगंधा       उल्टी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए करें ये उपाय       हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ सेहत के लिए भी बहुत होती है लाभकारी ये दाल       सिरदर्द से हो गए परेशान, तो अपनाएं ये उपचार       अब इन दो टीमों के पास है मौका, World Test Championship से बाहर हुई इंग्लैंड की टीम       भारत में ही पांच-छह शहरों में होगा IPL 2021 का आयोजन       OMG! इस एक्ट्रेस ने इंस्टाग्राम पर शेयर की ग्लैमरस तस्वीर       OTT Platform Guidelines पर क्या है लोगों की राय? किसी ने बताया महत्वपूर्ण कदम तो कोई बोला...       Sita- The Incarnation: अब बड़े पर्दे पर आएगी 'सीता' की अनकही कहानी, इस फ़िल्म का है ये कनेक्शन