पार्टी की स्थिति सुधारने को सोनिया गांधी ने बनाए तीन पैनल

पार्टी की स्थिति सुधारने को सोनिया गांधी ने बनाए तीन पैनल

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को पार्टी के उच्च नेताओं को शामिल कर तीन पैनलों का गठन किया है. बताया गया है कि यह कदम आर्थिक, विदेश  राष्ट्रीय सुरक्षा जैसे मामलों पर पार्टी की स्थिति स्पष्ट रखने के लिए उठाया गया है. इन पैनलों में एक-दो लोगों को छोड़ दिया जाए, तो ज्यादातर पुराने नेता ही शामिल हैं. इनमें पूर्व पीएम मनमोहन सिंह से लेकर राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद  कई अन्य पूर्व केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं.

बताया गया है कि इन तीन पैनलों में गुलाम नबी आजाद के साथ, पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा, एम वीरप्पा मोइली  शशि थरूर जैसे नेता भी शामिल हैं, जिन्होंने पार्टी में हर स्तर पर परिवर्तन की मांग के साथ अगस्त में सोनिया गांधी को लेटर लिखा था. अब इन पैनल्स में पुराने नेताओं को शामिल करना इसी बात का संकेत है कि गंभीर नीतिगत मुद्दों पर निर्णय के लिए सोनिया गांधी अब भी उन पर भरोसा करती हैं.

बता दें कि कांग्रेस पार्टी में इन पैनल्स का गठन ऐसे समय में किया गया है, जब RCEP समझौते से हिंदुस्तान के अलग रहने के मामले पर पार्टी से भिन्न-भिन्न आवाजें उठी थीं. यहां तक कि अनुच्छेद 370 को दोबारा लागू कराने पर भी कांग्रेस पार्टी नेताओं के भिन्न-भिन्न सुर रहे हैं. अब पार्टी के कार्य करने के उपायों पर प्रश्न उठाने वाले नेताओं को पैनल में शामिल कर के सोनिया गांधी ने संकेत कर दिया है कि उनके मन में किसी भी मेम्बर के लिए गुस्सा नहीं है. उनकी यह प्रयास पार्टी में बिहार चुनाव  उपचुनाव के नतीजों के बाद उभरे विवादों को भी शांत करने के तौर पर भी देखी जा रही है.

पैनल गठन के कदम से खुश नहीं लेटर लिखने वाले कुछ नेता: हालांकि, दूसरी तरफ जिन नेताओं ने पार्टी में नीतिगत परिवर्तन करने के लिए सोनिया गांधी को लेटर लिखा था, उनमें से कई पैनल गठन के कदम से कुछ खास खुश नहीं बताए जा रहे हैं. पैनल में शामिल किए गए एक नेता ने बताया कि यह कदम उत्साहित करने से ज्यादा मन बहलाने वाला है, क्योंकि जो मामले उठाए गए थे, उन्हें अब तक गंभीरता से नहीं लिया गया  पार्टी लगातार ढलान की ओर है.

एक अन्य नेता ने कहा, “संस्थागत मामलों को उठाने के बजाय हमें नीतिगत मुद्दों को देखने के लिए बोला जाता है, पार्टी के पास पहले ही कई फोरम हैं, जो इन मुद्दों पर कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष को जानकारी देते हैं  पैनल में पूर्व पीएम को शामिल करना पूर्व में उनके द्वारा लिए गए पद को छोटा दिखाने जैसा है.

कौन नेता किस कमेटी में शामिल?: कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष ने मनमोहन सिंह को तीनों पैनलों में शामिल किया है, उनके अतिरिक्त पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को आर्थिक मामलों की कमेटी का भाग बनाया गया है. लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के पूर्व नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह  पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश भी इसी समूह का भाग होंगे.

इसके अतिरिक्त आनंद शर्मा, शशि थरूर, सलमान खुर्शीद  ओडिशा से पार्टी के युवा सांसद सप्तगिरी उलाका को विदेश मामलों के पैनल का भाग बनाया गया है. शर्मा को पार्टी के विदेश मामलों के विभाग का प्रमुख बनाया गया है. राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों से जुड़े पैनल में गुलाम नबी आजाद , वीरप्पा मोइली, लोकसभा सांसद विन्सेंट पाला  लोकसभा सांसद वी वैथिलिंगम को शामिल किया गया है. इन पैनलों से पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी  कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल को बाहर कर दिया गया है.


शाह ने की तत्काल बैठक, इन राज्यों में हाई अलर्ट जारी

शाह ने की तत्काल बैठक, इन राज्यों में हाई अलर्ट जारी

नई दिल्ली: देशभर में जहां एक तरफ लोग कोरोना महामारी से बुरी तरह से जूझ रहे हैं, तो दूसरी तरफ वहीं तूफानों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में मौसम की बिगड़ते हालातों को देखते हुए अब दक्षिणी राज्यों में चक्रवात तूफान ‘बुरेवी’ की चेतावनी जारी की है। बुरेवी तूफान की वजह से तटीय इलाकों में हवाओं के साथ-साथ समुद्र में लहरें भी तेज होने लगी हैं। जो रात या कल सुबह तक दक्षिणी तमिलनाडु के तट को पंबन और कन्याकुमारी के बीच से पार करेगा।

समुद्र में लहरें भी तेज
बुरेवी तूफान से बिगड़ते हालातों को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने केरल और तमिलनाडु के मुख्यमंत्रियों से बात की और केंद्र सरकार की तरफ से मदद का आश्वासन दिया।

ऐसे में तमिलनाडु के रामेश्वरम में चक्रवाती तूफान बुरेवी को ध्यान में रखते हुए तटीय क्षेत्रों में हवाओं के साथ-साथ समुद्र में लहरें भी तेज होने लगी हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, बुरेवी आज रात या कल सुबह तक दक्षिणी तमिलनाडु के तट को पंबन और कन्याकुमारी के बीच से पार करेगा।

गृह मंत्री अमित शाह ने केरल और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के तूफान को लेकर बात की। उन्होंने कहा-‘मोदी सरकार तमिलनाडु और केरल के लोगों की मदद के लिए हर संभव समर्थन के लिए प्रतिबद्ध है। एनडीआरएफ(NDRF) की कई टीमें पहले से ही दोनों राज्यों में तैनात हैं।’


शिवसेना में शामिल होने के बाद उर्मिला ने सोशल मीडिया पर किया यह अनोखा ट्वीट       विधानसभा चुनाव से पहले साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत करेंगे अपनी पार्टी का ऐलान       पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने फ़ौरन नए कृषि कानूनों को लेकर की यह बड़ी मांग       झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने कहा,''अपने पैरों पर खड़ा करके बनाएंगे दौड़ने योग्य.....       कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसान आंदोलन को लेकर दिया यह बड़ा बयान, जाने       हरियाणा में नगर निगम चुनाव के लिए जाने कब होगा मतदान       लव जिहाद : आला हजरत ने फतवा देकर लालच- जबरन तरीके से धर्म परिवर्तन कराने को लेकर बोली यह बड़ी बात       ममता सरकार के कथित भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए भाजपा कर सकती है इतने करोड़ से ज्यादा परिवारों का दौरा       कांग्रेस की दिल्ली इकाई के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को लेकर की यह बड़ी मांग       GMCH में भाजपा ने लगाई अपनी पूरी जान, जाने क्या है ओवैसी की पार्टी AIMIM का हाल       घर से निकल जाने के बाद कविता कौशिक ने कही रुबीना को लेकर यह बड़ी बात       कंगना रनौत ने किया हिमांशी खुराना को ट्विटर पर ब्लॉक, जाने यह बड़ा कारण       शो कौन बनेगा करोड़पति : IPS अधिकारी बनने के लिए बहादुर सिंह को देना होगा इतने करोड़ के प्रशन का उत्तर       जाने क्यों बॉलीवुड फिल्मों में नहीं मिली कायनात अरोड़ा को जगह       आपके जीवन के कई गहरे राज खोलता है आपकी हथेली का रंग       बाजारों में धड़ल्ले से बिक रहा मिलावटी शहद       महिलाओं के चिकने गाल खोलते है उनके कई गहरे राज       सोशल मीडिया पर हिमांशी के बर्थडे का वीडियो हुआ तेजी से वायरल, जाने आसिम ने उड़ाए होश       नेहा कक्कड़ ने किया अपने पति रोहनप्रीत को KISS, वीडियो हुआ वायरल       सुपरस्टार रजनीकांत की राजनीति में एंट्री, 31 दिसंबर को करेंगे पार्टी ऐलान