नागरिकता संशोधन विधेयक पर देश में हुआ है हाहाकार मचा, इतने जवान है तैनात

नागरिकता संशोधन विधेयक पर देश में हुआ है हाहाकार मचा, इतने जवान है तैनात

नागरिकता संशोधन विधेयक पर देश में हाहाकार मचा हुआ. लोकसभा से पास होने के बाद आज इस बिल को राज्यसभा में पेश किया गया है. इसी बीच इस बिल के विरूद्ध पूर्वोत्तर के राज्यों में लोग सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं. मुद्दा इतना गंभीर हो गया है कि पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. वहीं, मुद्दे को शांत कराने के लिए सेना को भी बुला लिया गया है.

जानकारी के मुताबिक, पूर्वोत्तर के राज्यों में इस बिल के विरूद्ध लोगों का गुस्सा फूट रहा है. खासकर, गुवाहाटी में लोग जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आसू गैस के गोले छोड़े हैं. विरोध में उतरे लोगों का दावा है कि इससे मूलनिवासी ही अल्पसंख्यक हो जाएंगे. त्रिपुरा, असम के कई हिस्सों में विद्यार्थी संगठन सड़कों पर उतरकर कानून के विरूद्ध प्रदर्शन कर रहे हैं.

गृह मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक नागरिकता विधेयक को लेकर विरोध के मद्देनजर शांति का माहौल सुनिश्चित करने के वास्ते अर्द्धसैनिक बलों के पांच हजार जवानों को पूर्वोत्तर भेजा जा रहा है. विद्यार्थियों ने जीएस रोड पर अवरोधक को तोड़ दिया जिसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज किया. विद्यार्थियों पर आंसू गैस के गोले भी दागे गए. विद्यार्थियों का बोलना है कि पुलिस लाठीचार्ज में कई घायल हो गए हैं. विद्यार्थियों का बोलना है कि सर्बानंद सोनोवाल के नेतृत्व में बर्बर सरकार है. जब तक कैब वापस नहीं लिया जाता है तब तक हम किसी दबाव में नहीं आएंगे.