इस बिल के पेश होते ही यह मंत्री भड़के

इस बिल के पेश होते ही यह मंत्री भड़के

नागरिकता संशोधन बिल पर सोमवार को गृहमंत्री अमित शाह की तरफ से पेश करने के बाद सदन में भारी शोर शराबा देखने को मिला. विपक्षी दलों ने इसको लेकर सीधा केंद्र पर हमला बोला. कांग्रेस पार्टी नेता अधीर रंजन चौधरी ने बोला कि यह कुछ व नहीं बल्कि देश के अल्पसंख्यकों को निशाना बनाने के लिए लाया गया विधेयक है. जबकि, अमित शाह ने बोला कि यह बिल .001 प्रतिशत भी देश के अल्पसंख्यकों के विरूद्ध नहीं है.

जबकि, दूसरी तरफ एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने नागरिकता संशोधन बिल को लेकर बोला कि मुल्क को ऐसे कानून से बचाएं गृहमंत्री. उन्होंने बोला कि मुस्लिम इसी देश का भाग है

उधर, लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने ओवैसी को नसीहत देते हुए बोला कि वे ऐसे असंसदीय भाषा का सदन में प्रयोग न करें. जबकि, यूपी के पूर्व सीएम व समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बोला कि वे इस बिल का विरोध करते रहेंगे.

हालांकि, गृहमंत्री अमित शाह ने यह साफ कर दिया कि यह बिल अल्पसंख्यकों के बिल्कुल भी विरूद्ध नहीं है. अमित शाह ने बोला कि इससे समानता का अधिकार आहत नहीं होगा. उन्होंने बोला कि अधीर रंजन के गुस्से का कारण मैं समझ रहा हूं.