IITs कैंपस में स्टूडेंट्स को मिले करोड़ों के जॉब पैकेज ऑफर, घरेलू जॉब 1.8 करोड़ का, इंटरनेशनल ऑफर्स 2 करोड़ के

IITs कैंपस में स्टूडेंट्स को मिले करोड़ों के जॉब पैकेज ऑफर, घरेलू जॉब 1.8 करोड़ का, इंटरनेशनल ऑफर्स 2 करोड़ के

कोरोना महामारी के पहले दौर में सुस्ती के बाद देश की जानी-मानी IITs कैंपस में एक बार फिर करोड़ प्लस जॉब पैकेज ऑफर का मौसम लौटता नजर आ रहा है। सेशन के ओपनिंग डे पर कई IITs करोड़ प्लस सैलरी क्लब के मेंबर बन गए हैं। इससे सेशन में हाईएस्ट डोमेस्टिक पैकेज ने 1.8 करोड़ रुपये का आंकड़ा छू लिया है, जबकि इंटरनेशनल ऑफर्स ने 2 करोड़ की सीमा पार कर ली है।

बुधवार को पहले दिन उबर टेक्नोलॉजिस (Uber Technologies) ने चुने गए स्टूडेंट्स को सबसे अधिक 2 करोड़ रुपये प्लस का पैकेज ऑफर किया। इनमें से टॉप डोमेस्टिक पैकेज 1.8 करोड़ का जबकि इंटरनेशनल पैकेज 2 करोड़ का रहा। कंपनी ने 5 आईआईटी के छात्रों को 2 करोड़ रुपये अधिक पैकेज का ऑफर किया है। आईआईटी बॉम्बे और मद्रास के छात्र को 2.5 करोड़ रुपये यानी 274,000 डॉलर का ऑफर दिया है।

6 साल बाद मिला 2 करोड़ का पैकेज
रिपोर्ट में कहा गया है कि उबर पैकेज की राशि 2,74,250 डॉलर या 2.05 करोड़ रुपये प्रति वर्ष है। इसमें 1,28,250 डॉलर या 96 लाख रुपये का मूल वेतन, टार्गेट बोनस, न्यू हायर ग्रांट और साइन-ऑन बोनस शामिल है। आईआईटी इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट्स को करीब 6 साल के बाद 2 करोड़ रुपये का पैकेज ऑफर किया गया है।

फर्स्ट स्लॉट में स्टूडेंट्स को 62 लाख का पैकेज दिया गया

वहीं एक छात्र IIT रुड़की से है, जिन्हें 2.15 करोड़ यानी 287,550 डॉलर का ऑफर दिया गया है। दो अन्य छात्रों को 1.30 और 1.80 करोड़ रुपये का पैकेज ऑफर किया है। आईआईटी रुड़की के इन तीनों छात्रों को भारत में ही नौकरी करने का ऑफर शामिल है। आईआईटी रुड़की के 11 छात्रों को 1 करोड़ रुपये अधिक का ऑफर मिला है। उबर का हेड ऑफिस अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में है। इंवेस्टमेंट मैनेजमेंट फर्म मिलेनियम की ओर से फर्स्ट स्लॉट में स्टूडेंट्स को 62 लाख का पैकेज दिया गया। वहीं वर्ल्ड क्वांट ने 52.7 और ब्लैकस्टोन ने 46.6 लाख का पैकेज दिया।

आईआईटी मद्रास के 11 स्टूडेंट्स को इंटरनेशनल ऑफर मिले

आईआईटीयंस को सबसे ज्यादा पैकेज देने वाली कंपनी में गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, क्वालकॉम, बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप, एयरबस एंड बेन एंड कंपनी शामिल है। पहले स्लॉट में आईटी सॉफ्टेवयर, कोर इंजीनियरिंग और कंसल्टिंग प्रमुख क्षेत्र हैं जहां स्टूडेंट्स को हायर किया गया। आईआईटी मद्रास में ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट के एडवाइजर प्रोफेसर सीएस शंकर राम ने बताया कि एक दिन में आईआईटी मद्रास के 11 स्टूडेंट्स को इंटरनेशनल ऑफर मिले। प्लेसमेंट के पहले सेशन में यहां 407 स्टूडेंट्स ने प्लेसमेंट का रिकॉर्ड कायम किया।


काफिले के लिये यातायात रोकने को लेकर नगांव के डीसी को लगी फटकार , हिमंत बिस्व ने किया ये ट्वीट

काफिले के लिये यातायात रोकने को लेकर नगांव के डीसी को लगी फटकार ,  हिमंत बिस्व ने किया ये ट्वीट

गुवाहाटी| असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने शनिवार को राष्ट्रीय राजमार्ग 127 पर अपना काफिला गुजरते समय कथित तौर पर यातायात रोकने को लेकर नगांव के उपायुक्त निसर्ग हिवारे को सार्वजनिक रूप से फटकार लगाई।

घटना की एक वीडियो क्लिप स्थानीय टीवी समाचार चैनलों पर दिखाई गई और यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गई है।

वीडियो में दिख रहा है कि सरमा राजमार्ग पर खड़ेहैं और एक बस तथा एक ट्रक उनके सामने प्रतीक्षा कर रहा है। कई अधिकारियों के साथ उनके निजी सुरक्षा अधिकारी उनके आसपास खड़े दिख रहे हैं।

वीडियो में एक समय सरमा कहते हैं, एसपी को बुलाओ इसके बाद वह कहते हैं, अरे डीसी साब, ये क्या नाटक है? क्यूं गाड़ी रुकवाई है? कोई राजा महाराजा आ रहा है क्या? जब हिवारे ने कुछ कहने की कोशिश की तो सरमा द्वारा जोर से यह कहते सुना गया: हट! ऐसा मत करो आगे।

लोगों को कष्ट हो रहा हैं। वीडियो में उपायुक्त फ्रेम से बाहर जाते हुए दिखाई दिये और मुख्यमंत्री को जोर से यह कहते हुए सुना गया, खोलो, गाड़ी जाने दो! क्लिप के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद, सरमा ने इसे एक मीडिया अकाउंट से रीट्वीट किया और अपनी कार्रवाई का बचाव किया।

उन्होंने कहा, हम राज्य में हम एक ऐसी संस्कृति बनाना चाहते हैं, जहां डीसी, एसपी या कोई भी सरकारी कर्मचारी या जनप्रतिनिधि अपनी पृष्ठभूमि, बौद्धिक क्षमता या लोकप्रियतासे परे केवल लोगों के लिए काम करे। बाबू मानसिकता को बदलना कठिन है, लेकिन हम अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए दृढ़ हैं।

जनता ही जनार्दन। सरमा स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष के उपलक्ष्य में नगांव नगर पालिका बोर्ड द्वारा बनाए गए एक पार्क और कोलोंग नदी पर एक पुल का उद्घाटन करने के लिए नगांव जिले में थे।