सीएम योगी आदित्यनाथ ने डॉक्टरों को मरीज के प्रति संवेनशील होने को लेकर कही यह बड़ी बात

 सीएम योगी आदित्यनाथ ने डॉक्टरों को मरीज के प्रति संवेनशील होने को लेकर कही यह बड़ी बात

अभी अभी मिली समाचार के अनुसार सीएम योगी आदित्यनाथ ने बोला कि डॉक्टरों को मरीज के प्रति संवेनशील होना चाहिए। चिकित्सक अगर मरीजों से प्यार से पेश आएं तो उनकी आधी बीमारी अपने आप ही दूर हो जाती है। मरीज जिस पृष्ठ धरती से आया है व उसे जिस स्थान उपचार कराना है, दोनों के बीच बहुत बड़ा अंतर है। उस अंतर को भरने में चिकित्सक सबसे बड़ी किरदार निभा सकते हैं। जब चिकित्सक मरीज के प्रति अच्छा व्यवहार नहीं करते व उसके परिजनों के साथ हाथापाई करते हैं, तो वह क्षुब्ध होता है। इससे पूरा का पूरा मेडिकल पेशा बदनाम होता है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को झांसी के महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने बोला कि आजादी के बाद 70 सालों में यूपी में केवल 12 राजकीय मेडिकल कॉलेज बने थे। हमारी सरकार पांच साल में 29 नए मेडिकल कॉलेज बनाने जा रही है। सरकार के काम की गति सिर्फ इसी क्षेत्र में ही नहीं, अन्य क्षेत्रों में भी है। प्रदेश के अंदर स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिए हमने कई ठोस कदम उठाए हैं। दो एम्स रायबरेली व गोरखपुर में प्रारम्भ हो चुके हैं। इसके साथ ही 6 सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक अन्य मेडिकल कॉलेजों में आ रहे हैं।

कोई भी ठंड के कारण ठिठुरने न पाए:जानकारी के लिए हम आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने झांसी में शनिवार देर रात रैन बसेरा का निरीक्षण किया व लोगों को कंबल वितरित किए। इस दौरान उन्होंने वहां ठहरने वाले लोगों के हालचाल लेने के साथ रैन बसेरा की व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। मुख्यमंत्री ने रैन बसेरा में ठहरे बच्चों से भी उनके हालचाल पूछे व उन्हें दुलार किया। उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिए कि कोई भी ठंड के कारण ठिठुरने नहीं पाए। इसके बाद सीएम ने कारागार चौराहा स्थित निर्माणाधीन पुलिस हॉस्टल का भी निरीक्षण किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक (देहात) राहुल मिठास ने सीएम को बताया कि बन रही बिल्डिंग लगभग तैयार है जो थोड़ा बहुत कार्य बचा है वह जल्द ही पूरा करके इसी माह यह हैंडओवर कर दी जायेगी, इसमें 200 पुलिस कर्मियों के रहने की व्यवस्था राखी गई है।