कनार्टक के 15 विधानसभा सीटों पर जीती भाजपा 

कनार्टक के 15 विधानसभा सीटों पर जीती भाजपा 

कनार्टक के 15 विधानसभा सीटों पर 5 दिसंबर को हुए उपचुनाव में 11 बागी विधायकों ने भाजपा की टिकट पर चुनाव जीत लिया है. उपचुनाव में बागी विधायकों की जीत के साथ भाजपा ने दक्षिणी प्रदेश में चार महीने पुरानी बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार बचा ली है. सत्तारूढ़ दल को सरकार बचाने के लिए कम से कम सात सीटों पर जीत की आवश्यकता थी, ताकि उसके पास 223 सदस्यीय विधानसभा में कम से कम साधारण बहुमत 112 हो सके.

बीजेपी ने 11 सीटों पर जीत के साथ सदन में उसका बहुमत बरकरार रखा है. चुनाव से पहले बीजेपी के पास 105 विधायक थे, जिसमें एक निर्दलीय विधायक भी शामिल था. वहीं कांग्रेस पार्टी के नेता डीके शिवकुमार ने कर्नाटक उपचुनाव के नतीजों पर बोला कि हमें इन 15 निर्वाचन क्षेत्रों के मतदाताओं के जनादेश से सहमत होना होगा. लोगों ने दलबदलुओं को स्वीकार कर लिया है. हमने पराजय स्वीकार कर ली है, मुझे नहीं लगता कि हमें निराश होना पड़ेगा. 

कांग्रेस नेता बी। के। हरिप्रसाद ने बोला कि नतीजों से बहुत सी चीजें बदल जाएंगी. येदियुरप्पा के सत्ता में आने से पहले कांग्रेस-जद (सेक्युलर) की सरकार कांग्रेस पार्टी के 14 और जद-सेक्युलर के तीन विधायकों के इस्तीफे से गिर गई थी. सभी बागी विधायकों को पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने अयोग्य करार दे दिया. अब 15 सीटों पर उपचुनाव कराए गए हैं. दो सीटों के लिए उच्च न्यायालय में मुकदमा चल रहा है.

चुनाव आयोग ऑफिसर जी। जडियप्प्पा ने बताया, “सभी 15 विधानसभा क्षेत्रों के वोटों की गिनती प्रातः काल 8 बजे से 11 केंद्रों पर प्रारम्भ हुई, जिनमें बेंगलुरु के चार शहरी सीटों के लिए तीन शामिल हैं. पोस्टल बैलेट की गिनती पहले हो रही है, उसके बाद ईवीएम के वोटों की गिनती होनी है.”